Topics :

बुधवार, जुलाई 27, 2011

Home » » Janam Kundali aur Lal Kitab : जन्म कुंडली और लाल किताब

Janam Kundali aur Lal Kitab : जन्म कुंडली और लाल किताब

Janam Kundali aur Lal Kitab : जन्म कुंडली और लाल किताब
वर्तमान समय में लाल किताब की उपयोगिता (Relevance of Lal Kitab in present time)
अठारहवीं सदी में वर्तमान पाकिस्तान के पंजाब प्रान्त में प. गिरधारी लाल जी शर्मा अंग्रेजी हुकूमत में सरकारी पद पर आसीन थे | ज्योतिषशाश्त्र एवं कर्मकांड के बारे में अच्छा-खासा ज्ञान था | उन्हीं के सरकारी पद पर काम करने के समय में लाहौर में जमीन खुदाई (पाटने) सम्बन्धित कार्य चल रहा था, खुदाई के दौरान उस जमीन में से पीतल की पाटिकाए प्राप्त हुई जिन पर उर्दू एंव फारसी भाषा में कुछ लिखा (आज के लाल किताब सबंधी ) हुआ था | उन पाटिकाओ को प.गिरधारी लाल शर्मा जी के पास लाया जो कि ज्योतिष एंव कर्मकाण्ड (Jyotish And Karma Kand) के अच्छे ज्ञाता होने के कारण तथा उनकी उर्दू , फारसी एंव संस्कृत पर भी अच्छी पकड होने के कारण ही इन पट्टिकाओं को अध्ययन के लिए लाया गया | कई वर्षो तक प. गिरधारी लाल जी ने इन पटिकाओं पर परिश्रमपूर्वक अध्यन (शोध) किया, इस अध्यन कार्य में उनके ही कार्यालय में उनके साथी रूपचंद जोशी जी का भी काफी सहयोग मिला | पं. गिरधारी लाल जी शर्मा व उनके सहयोगी द्वारा अपने अथक परिश्रम से इन पट्टिकाओं पर उकरित अरबी व फारसी भाषा का हिंदी में अनुवाद किया | 1936 में पता नहीं क्या हुआ (इसकी जानकारी किसी भी ग्रन्थ या अखबार या कहीं और तरीके से ) यह किताब सन 1936 में प. रुप चन्द्र शर्मा जी के नाम से "लाल किताब" के नाम से अरबी भाषा मे लाहौर में प्रकाशित हो गई | यह "लाल किताब" प्रकाशित होते ही काफी प्रसिद्ध हो गई |

इस किताब के इतनी जल्दी प्रसिद्ध होने का एक कारण यह भी है कि ग्रहो के उपायो के रूप में वो सरल टोटके जिन्हे आम व्यक्ति बिना किसी योग्य विद्वान, योग्य पंडित, ज्योतिषाचार्य (दूसरे की सहायता के) के स्वंय ही ये उपाय कर सकता था ।

हाँलाकि इस किताब के बारे में समाज में तरह-2 की भ्रान्तियाँ प्रचलित (Superstition About Lal Kitab) है, कुछ लोगो का कहना है कि "भृगु संहिता", "अर्जुन संहिता", "ध्रुवनाड़ी" ग्रंथों की तरह इस किताब का इतिहास है | कुछ लोगो का ये भी कहना है कि पहले आकाशवाणी हुई फिर इस ग्रन्थ की रचना हुई तथा कुछ अन्य का कहना है कि इस किताब की मौलिक रचना अरब के विद्वानो द्वारा की गई।

आजतक "लाल किताब" को आधार मान कर काफी पुस्तकें प्रकाशित हो चुकी हैं |
1. लाल किताब के फरमान -- सन 1939 में प्रकाशित
2. लाल किताब के अरमान -- सन 1940 में प्रकाशित
3. लाल किताब (गुटका) -- सन 1941 में प्रकाशित
4. लाल किताब -- सन 1942 में प्रकाशित
5 लाल किताब -- सन 1952 में प्रकाशित (पृष्ठ संख्या 1172, इसी संस्करण को अंतिम संस्करण के रूप में )
नोट: इन उपरोक्त किताबों की मूल भाषा उर्दू है जो उस समय की आम प्रचलित भाषा थी। और निम्न किताबें उपरोक्त किताबों का हिंदी व अंग्रेजी रूपांतर है |
6. पं. किसनलाल शर्मा द्वारा लिखित व मनोज पाकेट बुक्स द्वारा प्रकाशित लाल किताब
7. पं. राधाकृष्ण श्रीमाली द्वारा लिखित व डायमंड पाकेट बुक्स (प्रा) लि. द्वारा प्रकाशित लाल किताब
8. प्रो. यु.सी. महाजन द्वारा लिखित व पुस्तक महल दिल्ली द्वारा प्रकाशित लाल किताब (अंग्रेजी)

सैद्धान्तिक रूप से यदि हम लाल किताब का विवेचन करे़ तो पाएगें कि इसका वैदिक ज्योतिष (Vedic Jyotish) से बहुत अन्तर है। भारतीय(वैदिक) ज्योतिष (Indian Vedic Astrology) में लग्न की महत्ता (Importance On Ascendant) है । जबकि लाल किताब में लग्न का कोई महत्व नही (No Importance of Lagna In Lal Kitab), लाल किताब में मेष राशि को ही लग्न मान लिया जाता (Aries Is Treated as Lagna In Lal Kitab) है।

लाल किताब का गणित भी अपनी अलग किस्म का ही (Mathematical Calculation of Lal Kitab Is Different) है । जहां वैदिक ज्योतिष में एक और हम वर्ग कुण्डली (Varga Kundli) (नवांश, दशंमाश) (Nabamansh) Dashamansh) के आधार पर फलादेश (prediction) करने का नियम है वहीं लाल किताब में अन्धी कुण्डली (Andhi Kundli), नाबालिग ग्रहो की कुण्डली (Nabalig Kundali) बनाकर भविष्य फल बताया जाता है। लाल किताब में एक भाव (Bhav) की दूसरे भाव पर दृष्टि से सम्बन्धित नियम भी अनोखा है।

इन सब चीजो का विश्लेषण करने से एक बात जो प्रमुख रूप से उभर कर सामने आती है कि यदि लाल किताब के गणित एंव फलित (Phalit) पक्ष को नजर अन्दाज कर दिया जाऎ तथा ग्रह दोष (Grah Dosh) दूर करने के लिए जो सरल टोटके इसमें बताए गए है , यदि उन्हे किया जाऎ तो व्यक्ति लाल किताब से काफी हद तक लाभ उठा सकता है।
यदि आपको ये लेख पसंद आये तो कृपया टिप्पणी जरूर करें | (किसी भी मुश्किल दरवेश होने पर आप मुझसे संपर्क करें)

Share this post :

33 टिप्‍पणियां:

Vaneet Nagpal
  1. Lal kitab kaise aur kahan se aayi ye koi baat mayne nahi rakhti par Lal Kitab ki vajah se kitne log sukhi ho gaye hai isski ganna karna bhui ab mushkil ho gaya hai.Lal Kitab ek aisa garnth hai jo har kissi ka jeevan sukhi kar raha hai.main iss par pura vishwas rakhta hu.

    Dinesh Sood Sri Ganganagar Rajasthan se.

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  2. It is a truth that all families nowadays check kundali of both girls and boys before marriage for avoiding future problems due to mismatch. We Provides kundali services like kundli matching, online kundali, janam kundli, match kundali matching and we solve all problems of kundli in india.
    Online Janam Kundli

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. is lal kitab ki kimat yani mulye kaya hai aur ye kahan se milegi

      हटाएं
    2. is lal kitab ki kimat yani mulye kaya hai aur ye kahan se milegi

      हटाएं
    3. आप निम्न लिंक पर जा कर लाल किताब PDF format में डाउनलोड कर सकते हैं |

      http://cityjalalabad.blogspot.in/2011/09/lal-kitab-in-hindi-free-download-pdf.html

      हटाएं
  3. These blog posts will be showing on Boxes tab of
    your recent blog post. re going to take a step-by-step look at how you can find and automatically install plugins directly from within Word
    - Press. Word - Press is an open source blog publishing
    application and can be used for basic content management.


    my web-site :: WP Social Press Review

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  4. Here we have the solution for every thing; our IT experts will provide you Microsoft free MCITP: Enterprise Administrator questions with solutions.
    With the "information age" well under way, this is
    not surprising. For long time of Mobile Reading, Eink screen display with paper books,
    do not hurt the eye, light can read and standby time super and no radiation benefits, this can't match other TFT LCD screen, so when choose and buy, want to look for the Eink electronic ink, appear on the market now ebook reader some of the Li - Gui and confusing, the so-called 5 inch TFT screens six inches of "ebook", has the formidable entertainment function, can listen to music, watching movies on the Internet to play games, in fact the only magnified version of the MP4, rather than the real ebook reader.

    my webpage; free pdf ebook download

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  5. क्या आप मेरी मदद करॆंगे, मेरी जन्म तिथि 9.11.1981, स्थान जांजगीर छत्तिसगढ समय 7.55 प्रातः

    मेरी एकमात्र ज़मीन सडक के एक ज़मीन के बाद है, और मुझे तमाम प्रयासो प्रलोभनो के बाद भी रस्ता नहि दे रहा है, क्रिपया मेरी मदद करेन.

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  6. mere date of birth hai 08/10/1982 samy 05.05Am main bhut pereshan or hatash hu mera ak beta hai mujhy uske achi parvarish karne hai krepa upay betay
    Email ID sharma_shikha2007@yahoo.com

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  7. mai yeh pata karna chati hu ki mai apna sawal ke jawab kaise janu main kal kuch sawal pucha par koi jawab nahi mila main apni mail id bhi di please tell me

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  8. You can do free online kundli milan and also u can download software ,it is web based janam kundali software, where you neither need to purchase costly, software nor need to install.

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  9. it’s actually a nice and helpful piece of information. I am satisfied that you simply shared this useful information with us. Please stay us informed like this. Thanks for sharing. ,vashikaran love astro.If you want to find some information on these matters, you may also check out the web page - See more -at: http://www.astrolovevashikaran.com

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  10. Mera naam jyoti hai birth date 14/11/1988birth time 5.55.am meri shadi kab hogi or mera pati kaisa hoga plz wo mujhe pyar karegana plz batao maine jindagi me bahut dukh uthaya hai is mujhe kab sukh milega plz batao

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  11. my Date of birth is 23august 1976 time is 7.15 Am can some can tell me which are my enemy planets currently effecting me and what are its remedies. pls. reply me on commoditytips07@gmail.com

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  12. 6/8/1988 time I don't know name pritee pandey mai mera koi bhi Kaam nahi ban raha hai sabse jhagda ho raha hai or paise to jaise dur bhaag rahe hai mujhe apna future janana hai kaisa hoga maine love marriage ki hai

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. Madam aap shiv bhgwan ko roj dudh cdhaye..or chore garib nacho ko kpde or khana do for dekho kmal.. Snail Sharma +919882751509

      हटाएं
  13. Name ROHIT SHARMA
    DOB 26/11/1986
    TIME 6:20
    SIR MERI SAKARI NOKRI LEGAGI YA NAHI LEGAGI TO KAB TAK YA MERA BUSNESS HOGA LAKIN KAB TAK ES SAMYA BHI KAHI NOKRI NAHI HAI MERA JEVAN MAI KAB TAK SAFAL HO JAUNGA
    EMAI
    srohithpr@gmail.com

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  14. Name ROHIT SHARMA
    DOB 26/11/1986
    TIME 6:20
    SIR MERI SAKARI NOKRI LEGAGI YA NAHI LEGAGI TO KAB TAK YA MERA BUSNESS HOGA LAKIN KAB TAK ES SAMYA BHI KAHI NOKRI NAHI HAI MERA JEVAN MAI KAB TAK SAFAL HO JAUNGA
    EMAI
    srohithpr@gmail.com

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  15. Sar mera dob he-26:10:1992
    Taim-1:15pm indor
    sar meri sadi ko 2 sal ho gae he mujhe koi santan nahi he kya mujhe santan hogi or hogi to kab plz mere sawal ka uttar de jay sri krisana
    Ashusharma.as499@gmail.com

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  16. Sar mera dob he-26:10:1992
    Taim-1:15pm indor
    sar meri sadi ko 2 sal ho gae he mujhe koi santan nahi he kya mujhe santan hogi or hogi to kab plz mere sawal ka uttar de jay sri krisana
    Ashusharma.as499@gmail.com

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. mera dob 23.09 1968 21.30 mukerian hoshiarpur hai maine lal kitab se baht faida lia hai bas kush problem karaz ki hai jise chukana hai mere beti aur bete ko baht faida hua hai muje pura pura bisbas hai ki mere je be problem solab ho jaigi ajay kumar kundra

      हटाएं
  17. mera name jyoti dabas h meri dob 25.8.1993 h time 12.5 pm h sir mai apni job ke bhare me jana jhati hu kab tk mil jayegi.

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  18. Mere husband ki govt.job kb tk lgegi unk date of birth 3 sep 1984 h inka janam 3:30 raat ko hui h navgarh kripya mjh upay btay

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  19. R kya upAY KRNI CHAHIY MJH GOVT.JOB K LIY.kaha p lgegi post r kya post rhegi.....

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  20. Meri apni dost se ledai ho gyi hai....hm logo k bech saririk sambndh bhi the....mai usi k sath jeevan bitana cheta hu.....kya y ab smbhav hai..kuki ledai bhut bad chuki....or mai use mena chehatu....

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  21. Mera date of birth 20 July 1980 hai hamare ghar ki dasha bhut kharb hai koi be kam karte hai os mein he nuksaan ho rahaa hai kirpa upaye batenn

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं

आपकी टिप्पणी मेरे लिए मेरे लिए "अमोल" होंगी | आपके नकारत्मक व सकारत्मक विचारों का स्वागत किया जायेगा | अभद्र व बिना नाम वाली टिप्पणी को प्रकाशित नहीं किया जायेगा | इसके साथ ही किसी भी पोस्ट को बहस का विषय न बनाएं | बहस के लिए प्राप्त टिप्पणियाँ हटा दी जाएँगी |