Topics :

गुरुवार, अगस्त 04, 2011

Home » » लाल किताब के उपाय कब और कैसे करें

लाल किताब के उपाय कब और कैसे करें

"लाल किताब" के "उपाय" कब और कैसे करें
लाल किताब के उपाय कब और कैसे करें
लाल किताब में उपाय करने के अपने नियम हैं | इसलिए लाल किताब में उपाय कब और कैसें करें ये निम्न प्रकार से बतलाया गया है | किसी भी उपाय को करने के लिए मन में श्रद्धा का होना जरूरी है | पूरे मन से किया गया उपाय पूर्ण फल देता है व अधूरे मन से किया गया उपाय निष्फल रहता है | इसलिए आपको सलाह दी जाती है कि आप कोई भी उपाय करें उसे निष्ठापूर्वक पूरे मन से श्रद्धापूर्वक करें | पूरे मन से व श्रद्धा से आप द्वारा किया गया उपाय आपके लिए कल्याणकारी सिद्ध होगा |

1. उपाय सूर्य निकलने के बाद सूर्य छिपने तक दिन के समय करें, रात के समय उपाय करना कई बार अशुभ फल दे सकता है। केवल चन्द्र ग्रहण का उपाय रात को किया जा सकता है ।
2. उपाय शुरू करने के लिए किसी खास दिन सोमवार या मंगलवार आदि, सक्रांति, अमावस्या या पूर्णिमा आदि का कोई विचार नहीं होगा।
3. आप का कोई खून का संबंधी रिश्तेदार जैसे भाई-बहन, माता-पिता, दादा-दादी, पुत्र-पुत्री आदि में से उपाय कर सकता है जो फलदाई होगा।
4. एक दिन में केवल एक ही उपाय करें, एक दिन में दो उपाय करने से शुभ फल नहीं मिलता या किया हुआ उपाय निष्फल हो सकता है।
5. जो परहेज बताए जाये जैसे मांस-मछली न खावें, मदिरा का सेवन न करें, चाल-चलन ठीक रखें, झूठ न बोलें, जूठन न खावें न खिलावें, नियत में खोट न रखें, परस्त्री-परपुरुष से संबंध न करें, आदि का विशेष ध्यान रखें।
6. जो उपाय जिस समय के लिये लिखा है उसी समय तक करें, आगे यह उपाय बंद कर देवें।
7. यदि किसी कारण उपाय बीच में बंद करना पड़ जाय तो जिस दिन उपाय बन्द करना है उससे एक दिन पहले थोड़े से चावल दूध से धोकर सफेद कपड़े में बांध कर पास रख लें और जब दुवारा उपाय शुरू करना हो वह चावल धर्म स्थान में या चलते पानी में या किसी बाग-बगीचे आदि में गिरा कर उपाय फिर शुरू कर दें। ऐसा करने से उपाय अधूरा नहीं माना जाएगा और पूरा फल मिलेगा।
8. हर उपाय 43 दिन या 43 सप्ताह या 43 मास या 43 वर्ष तक करना होता है, उपाय चलते समय बीच में टूट जाए चाहे 39वां दिन क्यों न हो सब निष्फल हो सकता है या शुभ फल में कमी रह सकती है।
9. जन्म कुण्डली में अशुभ ग्रहों का वर्षफल कुण्डली में उपाय अपने जन्मदिन से लेकर 40-43 दिन के भीतर ही करें ।
10. घर में कोई सूतक (बच्चा जन्म हो) या पातक (कोई मर जाय) हो जाय तो 40 दिन उपाय नहीं करने चाहिये ।
11. बुजुर्गों के रीति -रिवाजों को न तोडें और संस्कार पूरें करें ।
यदि आपको ये लेख पसंद आये तो कृपया टिप्पणी जरूर करें | (किसी भी मुश्किल दरवेश होने पर आप मुझसे संपर्क करें)

Share this post :

10 टिप्‍पणियां:

Vaneet Nagpal
  1. where are solutions ?please give specific solutions for planets and thanx a lot for good informations,

    उत्तर देंहटाएं
  2. आपने लाल किताब के बारे में महत्‍वपूर्ण जानकारी दी इसके लिए आपको हार्दिक धन्‍यवाद । राजेन्‍द्र कुमार मोदी, श्री ग्रंगानगर, राजस्‍थान

    उत्तर देंहटाएं
  3. Om Namh Sivay,
    guru ji mere detail
    name- inder
    DOB-30 apr 1987
    time- 11.10 pm
    place - udaipur rajasthan
    abhi tak job nahi lagi hai or koi govt job ka chance hai kya?
    or shadi kab tak hogi. please help me or contact inder5348@gmail.com
    or soultion bataye 08233141476
    bahut kraypa hogi
    thanks

    उत्तर देंहटाएं
  4. namaste guru ji , meri beti ka name garima grover hai dob-8mar 1996 time 0.32 place panipat haryana kraypa iss ke bare mein puri jankari de thanks

    उत्तर देंहटाएं
  5. my name is manoj holkar`
    DOB 10/01/1981
    time 02.30am
    palce :-solapur

    उत्तर देंहटाएं
  6. my name is raj kumar
    date of birth 05/12/1987
    time 06:55 am day Saturday
    alike the-rampuraphul distt bathinda Punjab

    plz sir mujhe bata do mujhe job kyo nai mil rahi

    09988850041

    उत्तर देंहटाएं
  7. उपाय पूरी तरह से स्पष्ट नहीं है

    उत्तर देंहटाएं
  8. गुरु जी ग्रहों को (की चीजों को ) घर से की और मे कैसे ले कर जायें किरपया कोई exm.. दे कर bataye

    उत्तर देंहटाएं

आपकी टिप्पणी मेरे लिए मेरे लिए "अमोल" होंगी | आपके नकारत्मक व सकारत्मक विचारों का स्वागत किया जायेगा | अभद्र व बिना नाम वाली टिप्पणी को प्रकाशित नहीं किया जायेगा | इसके साथ ही किसी भी पोस्ट को बहस का विषय न बनाएं | बहस के लिए प्राप्त टिप्पणियाँ हटा दी जाएँगी |